Sunday, October 17, 2021
Home POLITICS अधर में लटकी चुनावी रणनीतिकार के कांग्रेस में शामिल होने की महत्वाकांक्षी...

अधर में लटकी चुनावी रणनीतिकार के कांग्रेस में शामिल होने की महत्वाकांक्षी योजना…

वहीं यह संकेत साफ होने लगे हैं कि पीके की कांग्रेस में शामिल होने की महत्वाकांक्षी योजना अब स्पीड ब्रेकर में अटक गई है।

लखीमपुर खीरी ने उत्तर प्रदेश की राजनीति को भी गरमा दिया है और विपक्षी रणनीति को भी धार दे दी है। लेकिन कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने लखीमपुर खीरी कांड के सहारे कांग्रेस की सियासी वापसी की राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की कोशिशों पर ही सवाल खड़ा कर दिया है।

वहीं यह संकेत साफ होने लगे हैं कि पीके की कांग्रेस में शामिल होने की महत्वाकांक्षी योजना अब स्पीड ब्रेकर में अटक गई है। पीके ने जिस तरह प्रियंका और राहुल को लक्ष्य करते हुए कांग्रेस की ढांचागत कमजोरियों का कोई तात्कालिक समाधान नहीं होने की बात कही..

उससे स्पष्ट है कि कांग्रेस के प्लेटफार्म से विपक्षी सियासत को नया स्वरूप देने की उनकी रणनीति जमीन पर उतरने से पहले ही सियासी भंवर में उलझ गई है। कांग्रेस नेताओं ने भी पीके के ट्वीट पर जिस तरह तंज कसा, उससे साफ है कि पार्टी को यह सलाह नागवार लगी है।

पीके की टिप्पणी पर रणदीप सुरजेवाला ने नहीं दी कोई प्रतिक्रिया

प्रशांत किशोर की टिप्प्णी को सीधे सीधे राहुल-प्रियंका की राजनीतिक रणनीति पर तंज के रूप में देखा जा रहा है। इसीलिए पीके के इस ट्वीट के बारे में जब कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वे किसी कंसलटेंट की बातों को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं देंगे।