Sunday, September 25, 2022
Home BOLLYWOOD Kangana Ranaut React Mubai Police Are Case Why-कंगना रनौत और बहन रंगोली...

Kangana Ranaut React Mubai Police Are Case Why-कंगना रनौत और बहन रंगोली चंदेल को मुंबई पुलिस ने भेजा समन

Kangana Ranaut React Mumbai Police Are Case Janiye Kya He Resona Ki Mumbai Police Ne kangana Ranaut Par Case Lagu Huaa He Janiye Puri Bat.

Kangana Ranaut React Mubai Police Are Case

कंगना रनौत बॉलीवुड की उन अदाकाराओं में से एक हैं जो कि बॉलीवुड सितारों से लेकर राजनेता तक… किसी से भी पंगा लेने में जरा भी नहीं डरती हैं। बीते कई महीनों से कंगना रनौत के बेबाक बयान विवादों में आ चुके हैं। इन सब बातों से बेफिक्र होकर कंगना रनौत अपनी जिंदगी में काफी व्यस्त चल रही हैं।

इन दिनों कंगना रनौत पूरे परिवार के साथ अपने भाइयों की शादी का जश्न मना रही हैं। इसी बीच खबरें आ रही हैं कि मुंबई पुलिस ने कंगना रनौत के खिलाफ समन जारी कर दिया है। इतना ही नहीं कंगना रनौत के अलावा मुंबई पुलिस ने उनकी बहन रंगोली चंदेल को भी समन भेजा है।

इसी बीच कंगना रनौत ने एक बार फिर से शिवसेना पर जबरदस्त हमला कर दिया है। अपने लेटेस्ट ट्वीट में कंगना रनौत ने शिवसेना को जमकर खरीखोटी सुनाई है। कंगना रनौत ने लिखा, ‘पेंगुइन सेना इस समय बहुत उत्साहित है। महाराष्ट्र के पप्पू प्रो मुझे यानी कंगना को बहुत याद करते हैं। कोई बात नहीं, मैं जल्द ही वापस आ रही हूं।

वैसे ये पहली बार नहीं है जब कंगना रनौत ने सरेआम शिवसेना की आलोचना की है। राजद्रोह का मुकदमा दर्ज होने के बाद भी कंगना रनौत ने सोशल मीडिया के जरिए शिवसेना पर जमकर हमले किए थे। नवरात्रि के मौके पर भी कंगना रनौत ने शिवसेना के बारे में विवादित बयान दे दिया था। जिसके बाद कंगना रनौत को रेप की धमकियां मिलने लगी थीं।

बता दें, कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल पर दो समुदायों के बीच नफरत को बढ़ावा देने का आरोप है। कुछ समय पहले ही बॉलीवुड कास्टिंग डायरेक्टर मुनव्वर अली सैयद ने कंगना रनौत के खिलाफ एक याचिका दायर की थी। सभी बातों को ध्यान में रखते हुए मुंबई के बांद्रा कोर्ट ने कंगना रनौत के खिलाफ धर्म के नाम पर नफरत फैलाने के आरोप में केस दर्ज करने के आदेश दिए थे। 

कंगना रनौत पर आईपीसी की धारा 124-ए (राजद्रोह) तथा 34 (समान मंशा रखने), 153 ए (धर्म, नस्ल आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 295 ए (धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिये जानबूझ कर की गई हरकत) के तरह केस दर्ज किया गया है।