Tuesday, July 5, 2022
Home BOLLYWOOD कॉमेडी के नाम पर ये क्या हंगामा कर दिया - Hungama 2...

कॉमेडी के नाम पर ये क्या हंगामा कर दिया – Hungama 2 Review..

हम इंतेज़ार करते हैं उन कॉमेडी फिल्म्स का जिन्हें देखते हुए हमारे पेट में बल पड़ जाए. साल 2003 में आई हंगामा ऐसी ही फ़िल्म थी...

हम इंतेज़ार करते हैं उन कॉमेडी फिल्म्स का जिन्हें देखते हुए हमारे पेट में बल पड़ जाए. साल 2003 में आई हंगामा ऐसी ही फ़िल्म थी. हंगामा सफल हुई और दर्शकों को इंतेज़ार था इस फ़िल्म के सीक्वल का. करीब 18 साल बाद Hungama 2 का ट्रेलर आया है|

ट्रेलर देखकर निराश इसलिए भी होती है क्योंकि प्रियदर्शन निर्देशित फ़िल्म को बताया तो कॉमेडी फिल्म जा रहा था मगर जैसी एक्टिंग कलाकारों द्वारा हुई है वो ओवर एक्टिंग ज्यादा लग रही है.

ट्रेलर पर कहने और बताने के लिए हमारे पास बहुत कुछ है लेकिन उससे पहले ये जान लीजिए कि Hungama 2 के ट्रेलर को एक्टर अक्षय कुमार द्वारा अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से शेयर किया है|

फ़िल्म पहले सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली थी मगर बाद में फ़िल्म के प्रोड्यूसर और डायरेक्टर द्वारा इसे OTT प्लेटफॉर्म पर रिलीज करने का फैसला लिया गया. फ़िल्म 23 जुलाई को ओ टी टी प्लेटफॉर्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज होगी|

फ़िल्म में जावेद जाफरी के बेटे मीजान जाफ़री ने अपना एक्टिंग डेब्यू किया है और ट्रेलर की शुरुआत भी मीजान प्रणीता सुभाष और आशुतोष राणा के सीन से हुई है. ट्रेलर में एक बच्चा दिखाया गया है जिसे लेकर मीजान, राणा से यही कहते नजर आ रहे हैं कि यह बच्चा उनका नहीं है|

इस फ़िल्म के जरिये लंबे समय के बाद शिल्पा शेट्टी भी पर्दे पर नजर आई हैं जो फ़िल्म में परेश रावल की पत्नी के रोल में हैं ट्रेलर में दिखाई दे रहा है कि शिल्पा, मीजान की मदद करने का प्रयास कर रही हैं|

चूंकि कहानी कन्फ्यूजन की है इसलिए शिल्पा की मीजान से नजदीकियां देखकर परेश को लगता है कि उनकी पत्नी के मीजान से अवैध संबंध हैं और उस संबंध का नतीजा वो बच्चा है जो फ़िल्म में चर्चा का केंद्र हैं|

बात फ़िल्म की चल रही है तो ये बताना भी जरूरी है कि फ़िल्म की यूएसपी शिल्पा शेट्टी और उनका सुपरहिट गाना ‘चुरा के दिल मेरा गोरिया चली है जिसे इस फ़िल्म के लिए रीक्रिएट किया गया है जोकि मीजान और शिल्पा पर फिल्माया गया है.

जैसा कि होता है जब हम किसी फिल्म का ट्रेलर देखते हैं तो कुछ हद तक हमें कहानी समझ आ जाती है. या फिर ये कि हम ये समझ जाते हैं कि आखिर फिल्म बताना क्या चाह रही है. हंगामा 2 का सबसे अजीबो गरीब पहलू ये है कि करीब 3 मिनट के ट्रेलर को बार बार देखने के बावजूद हम अभी भी ये समझने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर फिल्म का प्लाट क्या है.