Tuesday, September 20, 2022
Home POLITICS अमेरिका को बताया कि नाम में कितना कुछ छिपा है

अमेरिका को बताया कि नाम में कितना कुछ छिपा है

डेमोक्रेटिक पार्टी की उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस अपने चुनाव प्रचार के अंतिम पड़ाव में वैश्विक बदलाव के सम्मान की बात कर रहे हैं।

न्यूयॉर्क, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। डेमोक्रेटिक पार्टी की उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस अपने चुनाव प्रचार के अंतिम पड़ाव में वैश्विक बदलाव के सम्मान की बात कर रहे हैं। साथ ही बता रहे हैं कि कोई भी व्यक्ति का नाम कितना महत्वपूर्ण होता है।

हैरिस के पहले नाम कमला का उच्चारण अमेरिकी राजनीति हलकों में लंबे समय से गलत तरीके से उच्चारित किया जाता है लेकिन पिछले कुछ हफ्तों में ऐसा कुछ ज्यादा ही बार हुआ है।

नस्लीय राजनीति पर चल रहे राष्ट्रीय फेरबदल के दौरान रिपब्लिकन ने हैरिस के पहले नाम का बार-बार मजाक उड़ाया है।

फॉक्स न्यूज के टकर कार्लसन और हाल ही में जॉर्जिया के सीनेटर डेविड पेर्डु ने कमला हैरिस के पहले नाम का गलत इस्तेमाल किया है। ट्रंप की हालिया रैली में पेर्डु ने कमला हैरिस के नाम को लेकर कहा, कहा-मह-लाह? काह-माह-लाह? कमला-माला-माला? मुझे नहीं पता, वो जो भी हो। जबकि वे अमेरिकी सीनेट में 3 साल तक हैरिस के साथ काम कर चुके हैं।

इन टेम्पलेटों के बीच 56 वर्षीय हैरिस ने पीपल मैगजीन के एक साक्षात्कार में कहा, मुझे लगता है कि आपके माता-पिता आपको जो भी नाम देते हैं, वह आपके लिंग या जाति या पृष्ठभूमि या आपकी ग्रैंडमदर किस भाषा में बात करते हैं, उसके आधार पर है होता है। कई कार्यक्रमों में तो नामकरण समारोह होते हैं। बच्चे का नाम उसके लिए एक सबसे बड़ा पारिवारिक उपहार होता है। इसीलिए सभी के नामों का सम्मान करें, जो उनके परिवार द्वारा उन्हें दिया गया है।