Wednesday, January 25, 2023
Home POLITICS भारत की चीन को दो-टूक कहा??

भारत की चीन को दो-टूक कहा??

अनुराग श्रीवास्‍तव ने कहा कि हम पहले की तरह हम स्पष्ट रूप से दोनों पक्षों की संयुक्‍त प्रेस वार्ता में जम्मू-कश्मीर के संदर्भ को अस्वीकार करते हैं। जम्मू और कश्मीर भारत का एक अभिन्न और अविभाज्य अंग है। किसी भी दूसरे देश को हक नहीं है कि वह इस मामले में दखलंदाजी करे। ऐसा नहीं कि भारत ने चीन और पाकिस्‍तान को पहली बार ऐसी हिदायत दी है। भारत पहले भी अलग-अलग मौकों पर चीन और पाकिस्तान दोनों से दो टूक कह चुका है कि कश्मीर को लेकर उनको किसी भी प्रकार की टिप्पणी करने का कोई हक नहीं है और यह पूरी तरह भारत का आंतरिक मामला है। 

इस बयान के साथ ही भारत ने सीपीईसी को लेकर अपने विरोध को पुरजोर तरीके से सामने ला दिया है। बता दें कि सीपीईसी चीन के महत्वाकांक्षी बेल्ट एंड रोड इनिसिएटिव (बीआरआइ) का अभिन्न हिस्सा है जो पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से हो कर गुजरता है। भारत पहला देश था जिसने चीन की तरफ से बीआरआइ पर बुलाए गए अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का बहिष्कार किया था। वैसे अब जापान, अमेरिका, फ्रांस समेत कई देश दुनिया के तमाम हिस्से को समुद्री मार्ग, रेलवे एवं सड़क मार्ग से जोड़ने की चीन की नीति का विरोध करने लगे हैं।