Saturday, November 26, 2022
Home CRICKET NEWS दिल्ली की जीत में चमके ये पांच धुरंधर, एक खिलाड़ी ने अकेले...

दिल्ली की जीत में चमके ये पांच धुरंधर, एक खिलाड़ी ने अकेले पंजाब से छीन ली जीत..

दिल्ली कैपिटल्स ने रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब को सुपर ओवर में हराकर आईपीएल 2020 में जीत से आगाज किया।

दिल्ली कैपिटल्स ने रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब को सुपर ओवर में हराकर आईपीएल 2020 में जीत से आगाज किया। श्रेयस अय्यर की अगुवाई में दिल्ली ने केएल राहुल की पंजाब की झोली से जीत छीन ली और सभी को चौंका दिया। मैच में दिल्ली एक वक्त पर हार की कगार पर खड़ी थी, लेकिन उसके कुछ खिलाड़ियों के दमदार प्रदर्शन ने पूरे मैच का रुख पलट दिया। ऐसे में आइए जानते हैं उन पांच खिलाड़ियों के बारे में जिन्होंने दिल्ली को जिताने में अहम भूमिका निभाई।

मार्कस स्टोइनिस:
इस सीजन में दिल्ली की तरफ से खेल रहे ऑलराउंडर स्टोइनिस ने अकेले दम पर पूरा मैच पलट दिया और दिल्ली को जीत दिलाने में सफल रहे। स्टोइनिस ने बल्ले और गेंद दोनों से ही टीम के लिए बड़ा योगदान दिया और मुश्किल में फंसी टीम का बेड़ा पार लगाया। स्टोइनिस ने सबसे पहले बल्ले से ताबड़तोड़ पारी खेली और 21 गेंदों में 53 रन जड़े। इसा दौरान उन्होंने सात चौके और तीन गगनचुंबी छक्के लगाए। इसके बाद स्टोइनिस ने गेंदबाजी में भी दो महत्वपूर्ण विकेट झटके। उन्होंने आखिरी दो गेंदों में दो विकेट लेकर मैच टाई करवा दिया।

कागिसो रबाडा:
तेज गेंदबाज कागिसो रबाडा ने एक बार फिर अपनी गेंदों से कहर बरपाया। रबाडा ने पहले तो मैच में ग्लेन मैक्सवेल और कृष्णप्पा गौतम का बड़ा विकेट अपने नाम किया। इसके बाद सुपर ओवर में जबरदस्त गेंदबाजी करते हुए दिल्ली की टीम के दो विकेट गिराए और मात्र दो रन ही बनाने दिए। यहां उन्होंने केएल राहुल और निकोलस पूरण को अपना शिकार बनाया।

रविचंद्रन अश्विन:
2019 में पंजाब के कप्तान रहे रविचंद्रन अश्विन इस बार दिल्ली की तरफ से खेलने उतरे। उन्होंने अपनी पुरानी टीम के खिलाफ खेलते हुए शानदार गेंदबाजी की। अश्विन ने चोटिल होने से पहले एक ओवर की गेंदबाजी की और दो बड़े विकेट अपने नाम किए। उन्होंने सबसे पहले छठे ओवर की पहली गेंद पर करुण नायर को पृथ्वी शॉ के हाथों कैच करवाया और फिर पांचवीं गेंद पर निकोलस पूरण को बोल्ड कर दिया। अश्विन के इन दो विकेटों ने पंजाब के मध्यक्रम की कमर तोड़ दी। हालांकि इसी ओवर में वे फॉलोथ्रू में गेंद पकड़ते हुए चोटिल हो गए और मैच से बाहर हो गए। उन्होंने एक ओवर में दो रन देकर दो विकेट लिए।