Wednesday, November 23, 2022
Home POLITICS कनिमोझी का आयुष सचिव पर आरोप

कनिमोझी का आयुष सचिव पर आरोप

इससे पहले भी द्रमुक सांसद कनिमोझी (Kanimozhi) ने कथ‍ित भाषाई भेदभाव का मामला उछाला था। कनिमोझी ने आरोप लगाए थे कि हवाई अड्डे पर जब उन्‍होंने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की एक अधिकारी से तमिल या अंग्रेजी में बोलने को कहा था तब वह पूछ बैठी कि क्या आप भारतीय हैं। क्‍या आपको हिंदी नहीं आती है… इस कथित वाकए को उछालते हुए कनिमोई ने ट्वीट कर पूछा था कि मैं जानना चाहूंगी कि कब से भारतीय होना हिंदी जानने के बराबर हो गया है यानी भारतीय होने के लिए हिंदी जानना जरूरी है… 

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने भी हिंदी को लेकर कथित सवाल के मामले में कनीमोझी का समर्थन किया था। चिदंबरम ने कहा था कि मुझे सरकारी अधिकारियों और आम लोगों से बातचीत के दौरान इसी तरह के अनुभव का सामना करना पड़ा है। टेलीफोन पर या आमने-सामने की बातचीत के दौरान उनका जोर रहता है कि मुझे हिंदी में ही बोलना चाहिए। कांग्रेस नेता ने कहा था कि केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों को दोनों भाषाओं की जानकारी होनी चाहिए। द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने भी कनीमोझी का समर्थन किया था।